Rcm Business Commission

RCM business में 45% कमीशन एक आरसीएम के डायरेक्ट सेलर्स को मिलता है। जिसमें तीन प्रकार के कमीशन शामिल होते हैं। 1. परफॉर्मेंस कमीशन, 2. रॉयल्टी इनकम, 3. टेक्निकल बोनस। 10-20% डिस्काउंट ऑफर मिलता है।

Rcm Business Commission

Rcm Business Commission

नमस्कार दोस्तों स्वागत है, आप सभी का एक बार फिर से हमारी वेबसाइट पर, आज के इस महत्वपूर्ण लेख में हम आपको rcm business commission के बारे में विस्तार से जानकारी देने वाले है। 
बहुत सारे लोगों के मन में यह सवाल रहता है कि आरसीएम बिजनेस में कमीशन कैसे मिलता है, कितने प्रकार का कमीशन मिलता है, कितना प्रतिशत कमीशन मिलता है आदि, इस लेख को अंतिम तक जरूर पढ़ें क्यों की आप को सभी सवालों के जवाब मिलने वाले है।


आरसीएम बिजनेस एक डायरेक्ट सेलिंग बिजनेस है, जिसमें आरसीएम में जुड़े लोगों को प्रोडक्ट खरीदने पर कमीशन मिलता है, क्यों की डायरेक्ट सेलिंग कंपनी कहती है कि हम कभी भी अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग या एडवरटाइजिंग नहीं करेंगे। वह अपने डिस्ट्रीब्यूटर से कहती है कि अगर आपको प्रोडक्ट अच्छे लगते हैं तो आप ही और लोगों को बताए, इसके बदले हम आपको कमीशन देंगे। तो इस प्रकार से आरसीएम बिजनेस में कमीशन आता है। 


Types of rcm business commission

RCM business में 45% कमीशन एक आरसीएम के डायरेक्ट सेलर्स को मिलता है।

जिसमें तीन प्रकार के कमीशन शामिल होते हैं।

1. परफॉर्मेंस कमीशन (Performance Bonus)

2. रॉयल्टी इनकम (Royalty Income)

3. टेक्निकल बोनस (Technical Income)

10-20% डिस्काउंट ऑफर मिलता है। 
आरसीएम के हर प्रोडक्ट पे आपको 10-20% का डिस्काउंट मिलता है। यानी कि एमआरपी से कम रेट में आपको प्रोडक्ट दिया जाता है। 

यानी कि आप करना परफॉर्म करोगे उतना ही आपको कमीशन मिलने वाला है। 


100-1000 bv- 10% कमीशन
5000 BV- 12% 
10000 BV- 14%
20000 BV- 16.5%
40000 BV- 19%
70000 BV- 21.5%
115000 BV- 24%
170000 BV- 26.5%
260000 BV- 29%
350000 bv - 32%

इस प्रकार से आपको यानी आरसीएम डायरेक्ट सेलर्स को 32 परफॉर्मेंस मिलता है। जितना आप परफॉर्मेंस करते हैं, उतना आपको आरसीएम बिजनेस से कमीशन मिलता है।
3 से 8 प्रतिशत रॉयल्टी इनकम/ पीढ़ी दर पीढ़ी।
सबसे पहले आपको में बता दूं कि रॉयल्टी इनकम वह होती है, जो सिर्फ लेखक, सिंगर, वैज्ञानिक, ओर आरसीएम डायरेक्ट सेलर्स को ही मिलती है। आरसीएम बिजनेस में आपको रॉयल्टी इनकम दी जाती है, अगर आप एक बार रॉयल्टी इनकम स्टार्ट कर देते हैं तो वह फिर हर महीने सालो तक आपके अकाउंट में आती रहेगी, फिर भले ही आप काम करें या नहीं।
एक उदाहरण- मान लीजिए आपके फर्स्ट ग्रुप में 350000 bv है, ओर सेकंड ग्रुप में 115000 bv है तो आपको यहां पर 3 प्रतिशत रॉयल्टी इनकम होएगी यानी कि लगभग 10500 के आस पास। और आपके परफॉर्मेंस कमीशन को मिलाकर 21300 रुपए आएंगे। इस प्रकार से आपको आरसीएम बिजनेस में रॉयल्टी इनकम होती है, जो एक बार स्टार्ट होने के बाद पीढ़ी दर पीढ़ी चलती रहती है।
1 से 5 प्रतिशत टेक्निकल बोनस।
आरसीएम बिजनेस में आपको 1% से 5% टेक्निकल बोनस मिलता है। आपके दोनों लेग्स में 350000 bv से ज्यादा बिजनेस होने पर आपको टेक्निकल बोनस मिलने लग जाता है। इस प्रकार के कमीशन में आप एक लाख रुपए से 40 लाख रुपए महीने तक के कमा सकते हैं।
इस प्रकार से आरसीएम बिजनेस में एक डायरेक्ट सेलर्स को 45% का कमीशन मिलता है। जो इस प्रकार सभी लोगों के पास पहुंचता है।

और कंपनी एडवरटाइजिंग ना कर के एक आम आदमी को यह कमीशन देती हैं। 
उम्मीद करते हैं, आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी। यह पोस्ट सभी दोस्तो के साथ शेयर कीजिए।

धन्यवाद।